गुरुवार, 6 मई 2021

कोरोना को हराना, हमनें है ठाना

 

कोरोना को हराना, हमनें है ठाना


जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह समय सभी के लिए कितना मुश्किलों भरा है, कोरोना जैसी महामारी के कारण किसी को पैसे की परेशानी है तो किसी को स्वास्थ्य की और कोई अपने परिवार के पास जाने के लिए दिन-रात मौत से लड़ाई करने को तैयार हैं तो कोई अपनों से दूर कहीं बेहद अकेला गुमसुम उदास  बैठने को मजबूर है। इस कोरोना ने सभी को दुःखी किया-क्या बच्चे, क्या बड़े और  क्या बुजुर्ग ?


पर अब समस्या आ गई है तो हम उसके सामने घुटने तो नहीं टेक सकते । हमारी लड़ाई उस न दिखने वाले दुश्मन से है और हम सब मिलकर उसे हराने की कोशिश करेंगे और हार नहीं मानेंगे। पर  ऐसा  हम कैसे कर सकते हैं ? ऐसा दुश्मन जो दिखता नहीं, जिसके हाथ नहीं, शरीर  नहीं, जिसे मार नहीं  सकते ।


तो दोस्तों ! इस दुश्मन को हम खुश रहकर, अपना  ख्याल रखकर, अपने आप  से प्यार करके, अपनी पुरानी संस्कृति का पालन कर, थोड़ी खुशियाँ बाँटकर इसे मुँह की खाने पर  मजबूर कर सकते  हैं।


आज मैं आप सभी से कुछ छोटी-छोटी सावधानियाँ और कुछ अनूठे प्रयोग रख रही हूँ , जिसे हम रोजमर्रा की जिन्दगी में शामिल कर लें तो इस दुश्मन से लड़ने के लिए एक योद्धा की तरह तैयार हो सकते हैं। 


आइये जानते हैं-


1. तुलसी, काली मिर्च, अदरक- जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इन तीनों चीजों में औषधीय गुण पाये जाते हैं। बस इसे अपने चाय की चुस्कियों में शामिल कर लीजिये।


2. भाप- हम ये जानते हैं कि आजकल हमें भाप लेने की हिदायत दी जा रही है, पर रोज ये करना मुमकिन नहीं हो पा रहा है। तो बस जो हम चाय या पानी उबाले या कुकर की सीटी से भाप मिले, उससे खुद को दो मिनट भाप दे दें, मगर  पूरी सावधानी के साथ में।


3. हाथ धोना- आप जब भी बाहर से आएँ, हाथों को साबुन से 20 सेकेण्ड तक जरुर धोएँ या फिर सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें।


4. मास्क- कोरोना के इस दूसरी लहर में हमें और भी अधिक सावधानी रखने की जरुरत है। अब ट्रिपल लेयर मास्क को पहनने की आवश्यकता है। आप सिंगल लेयर के सर्जिकल मास्क के ऊपर अपने कपड़े के मास्क को पहन सकते हैं और बाहर से आकर कपड़े के मास्क को धुल लें व दूसरे मास्क को फेंक दे।


5. दूरी- दोस्तों दो गज की दूरी से बात नहीं बनेगी। जहाँ तक सम्भव हो घर पर ही रहें। जब बहुत आवश्यक हो तब ही बाहर निकलें, क्योंकि जान है तो जहान है।


6. स्वस्थ रहें- पौष्टिक भोजन का सेवन करें, जिसमें प्रोटीन, विटामिन, मिनरल्स् इत्यादि हों। ज्यादा मसाला, तेल और जंक फूड खाने से बचें। फल एवं दूध को अपने आहार में शामिल करें।


7. व्यायाम- प्रतिदिन व्यायाम को अपनी नियमित दिनचर्या का हिस्सा बनायें। हल्की-फुल्की कसरत करें । योग करें, जिसमें सूक्ष्म व्यायाम, फेफड़ों को स्वस्थ रखने के प्राणायाम जैसे कि कपाल-भाति, अनुलोम-विलोम एवं भ्रामरी अवश्य सम्मिलित हों। टहलें, लाफिंग थेरेपी और मेडीटेशन करें।


8. साफ-सफाई- अपने घर में सफाई का विशेष ध्यान रखें। शरीर साफ रखें साथ ही साथ स्वच्छ कपड़े पहनें।


9. खुश रहें- इस विषम परिस्थिति में खुश रहना सबसे चैलेंजिंग बात हो गई है। पर सबसे आसान तरीका है कि घर के बच्चों के साथ वक्त बिताएँ, क्योंकि एक बच्चे ही होते हैं जो निस्वार्थ भाव से सब में खुशी व मुस्कान बाँटते हैं। साथ ही साथ, घर के बड़े-बुजुर्गों के साथ भी कुछ समय व्यतीत करें, जिससे उनमें अकेलापन की भावनाएँ कम से कम हों। अगर आप अपने घर-परिवार  से दूर रह रहें हैं तो नये तकनीक जैसे कि वीडियो काॅल और वीडियो कान्फ्रेंसिंग का उपयोग करके आप अपने अपनों से जुड़े रह सकते हैं। 


आज बस इतना ही, 

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें।



Image:Google

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें